MP E-Uparjan 2024: सर्वर बंद होने से नही हो रहा है, किसानों के पंजीयन, 01 मार्च है गेहूं पंजीयन की अंतिम तिथि

MP E-Uparjan 2024: सर्वर बंद होने से नही हो रहा है, किसानों के पंजीयन, 01 मार्च है गेहूं पंजीयन की अंतिम तिथि

MP E Uparjan 2024 : मध्य प्रदेश सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी हेतु पंजीयन प्रक्रिया की शुरुआत की जा चुकी है। सरकार द्वारा निर्धारित की गई तिथियां की बात करें तो मध्य प्रदेश में 5 फरवरी से गेहूं का पंजीयन ( Gehu Ka Panjiyan ) शुरू हो चुका है। जो की 1 मार्च तक चलेगा, लेकिन राज्य के किसानों को पंजीयन करने में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। पंजीयन केंद्रों पर किसानों की भीड़ बता रही है, कि किसान पंजीयन को लेकर किस तरह से परेशान है। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा पंजीयन प्रक्रिया की शुरुआत तो कर दी है, लेकिन पंजीयन केंद्रों पर सर्वर की दिक्कत के कारण किसानों का पंजीयन नहीं हो पा रहा है। जिसको लेकर किसानों ने समस्या जाहिर की है।

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा गेहूं खरीदी (Gehu Kharidi) हेतु जिले में एवं तहसील में यहां तक की ग्रामीण क्षेत्र में पंजीयन केंद्रों ( e uparjan portal) की स्थापना की है। जहां पर जाकर किसान अपना पंजीयन कर सकते हैं। वहीं सरकार द्वारा कॉमन सर्विस सेंटर और एमपी ऑनलाइन पर भी पंजीयन करने की सुविधा दी है। लेकिन सरकार ने अब तक एमपी ऑनलाइन और कॉमन सर्विस सेंटर पर पंजीयन सुविधा की शुरुआत नहीं की है। जिससे किसानों को सरकार द्वारा निर्धारित किए गए पंजीयन केंद्रों पर जाकर पंजीयन करना पड़ रहा है। पंजीयन केंद्रों पर भीड़ होने के कारण किसानों का पंजीयन करने में देरी होने के साथ-साथ काफी अधिक समस्या का सामना करना पड़ रहा है। वही पंजीयन केंद्रों पर सर्वर की समस्या के कारण भी किसान पंजीयन नहीं कर पा रहे हैं।

सर्वर डाउन के चलते नहीं हो रहा है गेहूं का पंजीयन –

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी हेतु किसानो का एमपी उपार्जन पोर्टल ( Mp e uparjan portal) पर पंजीयन कराया जाता है। लेकिन फिलहाल इस पोर्टल पर सर्वर दिक्कत के कारण किसानों का पंजीयन में दिक्कत आ रही है। मध्य प्रदेश के लाखों किसान गेहूं पंजीयन के लिए पंजीयन केंद्रों पर इकट्ठा हुए हैं। लेकिन सर्वर दिक्कत के चलते पंजीयन में देरी हो रही है। और किसानों को काफी लंबे समय तक इंतजार करना पड़ रहा है। अगर मध्य प्रदेश सरकार कॉमन सर्विस सेंटर पी पंजीयन सुविधा शुरू कर देती है, तो इन पंजीयन केंद्र पर पड़ने वाली भीड़ को काम किया जा सकता है।

1 मार्च है अंतिम तिथि ( Mp e Uparjan 2024 )

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी हेतु रबी विपणन वर्ष 2024 के लिए MP e uparjan portal पर किसानों के पंजीयन की सुविधा को 1 मार्च तक के लिए निर्धारित किया गया है। राज्य में 1 मार्च गेहूं पंजीयन के लिए अंतिम तिथि है। वही 15 मार्च से मध्य प्रदेश में गेहूं की खरीदी शुरू हो जाएगी। ऐसे में किसानों को 1 मार्च से पहले अपना पंजीयन करना होगा। लेकिन पंजीयन केंद्रों पर सर्वर दिक्कत के कारण किसानों को इस बात की चिंता है कि आखिर उनका पंजीयन 1 मार्च से पहले हो पाएगा या नहीं। ऐसे में सरकार से किसान अनुरोध कर रहे हैं कि किसानों को पंजीयन हेतु या तो समय सीमा को बढ़ाया जाए या फिर सर्वर में दिक्कत का समाधान किया जाए। जिससे की किसान समय पर अपना पंजीयन करा सके।

20 फरवरी से सरसो का पंजीयन भी हुआ शुरू –

एक तरफ जहां मध्य प्रदेश सरकार द्वारा गेहूं एवं चने के पंजीयन प्रक्रिया के लिए तरीकों का निर्धारण कर दिया गया था। वहीं हाल ही में मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में सरसों किसानों के लिए 20 फरवरी से पंजीयन प्रक्रिया शुरू करने का ऐलान कर दिया है। जिन किसानों ने अपने खेतों में सरसों की फसल बोई हुई है वह सभी किसान 20 फरवरी से उपार्जन पोर्टल पर जाकर अपने फसल के लिए पंजीयन कर सकते हैं।

15 मार्च से होगी Mp e uparjan portal पर गेहूं की खरीदी –

मध्य प्रदेश सरकार 15 मार्च से उपार्जन केन्द्रों पर गेहूं एवं चने की खरीद शुरू कर देगी। इसके लिए मध्य प्रदेश सरकार ने सभी जरूरी दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। 1 मार्च तक किसान उपार्जन पोर्टल पर अपना पंजीयन कर सकते हैं। इसके बाद 15 मार्च से गेहूं खरीदी शुरू कर दी जाएगी। किसानों को गेहूं खरीदी हेतु पोर्टल पर स्लॉट बुकिंग करना होगा। स्लॉट बुकिंग के पश्चात किसान अपनी फसल उपार्जन केंद्र पर ले जाकर बेच सकते हैं।सरकार द्वारा इस बार से गेहूं का समर्थन मूल्य 2275 रू प्रति क्विंटल तय किया गया है। अगर राज्य सरकार द्वारा प्रति क्विंटल 425 रुपए का बोनस प्रदान किया जाता है, तो किसानों को गेहूं का मूल्य 2700 रुपए प्रति क्विंटल तक प्राप्त हो सकता है।

RTE MP Admission 2024-25 : Online Apply, Last Date, Mp RTE Registration

Leave a comment